Breaking News
सपा और कांग्रेस का गठबंधन कहता है कि जीतेंगे तो लूटेंगे, हारेंगे तो टूटेंगे – मुख्यमंत्री योगी
चारधाम यात्रा- शासन ने दो अधिकारियों को बनाया यात्रा मजिस्ट्रेट
ट्यूशन टीचर ने पांच साल की बच्ची की आंख पर मारी कॉपी, चली गई रोशनी, केस दर्ज
पेयजल किल्लत को लेकर बनभूलपुरा में लोगों ने जल संस्थान मुर्दाबाद के लगाए नारे 
आज विधि- विधान के साथ श्रद्धालुओं के लिए खोले गए हेमकुंड साहिब के कपाट
क्रिमिनल जस्टिस 4 का टीजर आउट, कोर्ट रूम में माधव मिश्रा बन पेचीदा केस सॉल्व करते नजर आएंगे पंकज त्रिपाठी
स्वास्थ्य विभाग को मिले 37 नये नर्सिंग अधिकारी
गर्मी के कारण आने लगे चक्कर तो बचने का यह है आसान तरीका, लू लगे इससे पहले ही कर लें ये काम
महाराज के निर्देश पर आपदा से हुए नुकासान की जानकारी लेने पहुंचे प्रतिनिधि

बृजभूषण ने कोर्ट के फैसले से पहले डाली अर्जी, 26 अप्रैल को आदेश सुनाएगा कोर्ट

नई दिल्ली। महिला पहलवानों के यौन शोषण के मामले में बृज भूषण शरण सिंह के खिलाफ आरोप तय करने को लेकर राऊज एवेन्यु कोर्ट में सुवनाई हुई। कोर्ट ने बृजभूषण शरण सिंह की अर्जी पर आदेश सुरक्षित रखा। कोर्ट 26 अप्रैल को आदेश सुनाएगा। बृजभूषण शरण सिंह का कहना है कि जब एक महिला पहलवान के उत्पीड़न का केस दर्ज किया गया, उस वक़्त वो देश में नहीं था। इस पहलू की आगे जांच होनी चाहिए।

अब आगे बृजभूषण शरण सिंह की इस नई अर्जी पर फैसला देने के बाद ही कोर्ट आरोप तय करने को लेकर अपना आदेश देगा। आदेश आने से पहले बृजभूषण शरण सिंह ने कोर्ट में अर्जी दायर कर मामले से जुड़े कुछ पहलुओं की आगे जांच करने की मांग की है। दिल्ली पुलिस ने इस अर्जी का विरोध किया है।

बृजभूषण ने इस अर्ज़ी में कहा है कि जिस तारीख पर एक महिला पहलवान के WFI दिल्ली ऑफिस में कथित छेड़छाड़ का आरोप लगाया है उस तारीख पर वो देश से बाहर थे। बृज भूषण ने अपनी अर्ज़ी के साथ पासपोर्ट की कॉपी दी है।

बृजभूषण के मुताबिक अभियोजन पक्ष ने उस तारीख का कॉल डिटेल रिकार्ड्स की कॉपी को कोर्ट में नहीं जमा की है। दिल्ली पुलिस ने बृजभूषण की अर्जी का विरोध किया है। दिल्ली पुलिस का कहना है कि चार्जशीट पर संज्ञान के बाद जब आरोप तय करने को लेकर बहस हुई थी, तब बृज भूषण के वकील ने ये मामला कोर्ट में नहीं उठाया था, अब इस मुद्दे को उठाने का कोई औचित्य नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top