Breaking News
एक दिन में इससे ज्यादा मीठा खाया तो समझो बीमार होना तय, जानें साइड इफेक्ट्स
ओमान के तट पर तेल टैंकर के पलटने से 16 लोग लापता, तलाश जारी 
प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में चुनाव कार्यक्रम पर लगी मुहर, अगस्त माह से शुरू होगी प्रक्रिया
ढाबा स्वामी ने कांवड़ यात्रियों को खिलाया लहसुन-प्याज का खाना, मुकदमा दर्ज
मुख्यमंत्री धामी ने जागेश्वर धाम के प्रसिद्ध श्रावणी मेले का किया शुभारंभ
राजकुमार राव और श्रद्धा कपूर स्टारर स्त्री 2 के ट्रेलर की रिलीज डेट से उठा पर्दा, फिर फैलेगी दहशत
आतंकी हमला प्रशासन के लिए चिंता का विषय
सीएम धामी बौखनाग डोली के अयोध्या धाम भ्रमण कार्यक्रम में हुए शामिल
केदारनाथ धाम तक पहुंचना होगा आसान, अगस्त्यमुनि से फाटा मार्ग की चौड़ाई बढ़ाने को मिली अनुमति 

एक साल बाद 2015 बैच के 20 दरोगाओं को किया गया बहाल

एडीजी प्रशासन अमित सिन्हा ने की बहाली निर्देश जारी होने की पुष्टि 

देहरादून। एक साल बाद 2015 बैच के 20 दरोगाओं को बहाल कर दिया गया है, पुलिस मुख्यालय के निर्देश पर जिलों के कप्तानों द्वारा इन दरोगाओं की बहाली की गई है। आपको बता दें कि पिछले साल जनवरी में 20 दरोगाओं को यूकेएसएसएसी की परीक्षाओं में धांधली की जांच के वक्त दरोगा भर्ती धांधली में निलंबित किया गया था। वहीं अब बीती देर शाम को इन्हें बहाल किया गया है। 20 दरोगाओं के निलंबन होने के बाद पौड़ी जिले में तैनात एक दरोगा पुष्पेंद्र की सड़क हादसे के दौरान मौत हो चुकी है। बता दें कि एडीजी प्रशासन अमित सिन्हा ने बहाली निर्देश जारी होने की पुष्टि की है।

दरअसल 2015 में हुई सीधी दरोगा भर्ती में धांधली की बात सामने आने के बाद पुलिस मुख्यालय ने इस मामले में विजिलेंस से जांच कराने की संस्तुति की। विजिलेंस ने प्राथमिक जांच के बाद आठ अक्तूबर 2022 को मुकदमा दर्ज किया। इसके बाद पुलिस मुख्यालय के निर्देश पर 20 दरोगाओं को निलंबित कर दिया गया। एक साल से ज्यादा लंबे समय चली जांच के बाद विजिलेंस ने पिछले दिनों शासन को रिपोर्ट भेज दी है। बताया जा रहा कि इनमें से कई दरोगा ऐसे हैं, जिनके खिलाफ धांधली के साक्ष्य नहीं मिले हैं। हालांकि, अंतिम निर्णय इस पर शासन को ही लेना है। अब पुलिस मुख्यालय ने इन सभी दरोगाओं को बहाल करने के आदेश दिए हैं।

बहाल हुए दरोगाओं के नाम 
देहरादून : ओमवीर सिंह, प्रवेश रावत, राज नारायण व्यास, जैनेंद्र राणा व निखिलेश बिष्ट।
ऊधमसिंहनगर : दीपक कौशिक, अर्जुन सिंह, बीना पपोला, जगत सिंह शाही, हरीश महर, लोकेश व संतोषी।
नैनीताल : नीरज चौहान, आरती पोखरियाल नैनीताल (अभिसूचना), प्रेमा कोरमा व भावना बिष्ट।
पौड़ी : पुष्पेंद्र (पिछले साल सड़क हादसे में मृत्यु हो चुकी)।
चमोली : गगन मैठाणी।
चंपावत : तेज कुमार।
एसडीआरएफ : मोहित सिंह रौथाण।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top