Thursday, September 29, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड शहरी बेरोजगारी के मामले में पहले नंबर पर - डॉ दिव्या...

उत्तराखंड शहरी बेरोजगारी के मामले में पहले नंबर पर – डॉ दिव्या नेगी घई

उत्तराखंड के महिलाओं को परंपरागत समाजिक संरचना से बाहर लाकर उनकी प्रतिभा का सही उपयोग कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने की जरूरत

2010 और 2020 के बीच, भारत में कामकाजी महिलाओं की संख्या 26 प्रतिशत से गिरकर 19 प्रतिशत हो गई

देहरादून। यूथ रॉक्स फाउंडेन देहरादून के संस्थापक डॉ दिव्या नेगी घई ने उत्तराखंड में महिलाओं के बेरोजगार होने के आंकड़ों पर चिंता व्यक्त करते हुए कहती है ’ हम सभी ने दसवीं और बारहवीं के बोर्ड के परिणामों में लड़कियों की अपने स्कूलों में टॉप करने की उज्ज्वल तस्वीरें देखी हैं और परिणाम के समय लड़कियों का अधिक पास प्रतिशत एक आम दृश्य है। हम अपनी बेटियों पर गर्व महसूस करते हैं और मैजूद सभी मंचों पर समाज के विभिन्न वर्गों के द्वारा महिला सशक्तिकरण के नारों और घोषणाओं से प्रोत्साहित करते हैं। हमें लगता है कि इस दिशा में राष्ट्रीय और क्षेत्रीय स्तर पर सब कुछ ठीक चल रहा है। हम मानते हैं कि ये सभी लड़कियां उच्च शिक्षा प्राप्त कर रही होंगी और अंततः आर्थिक रूप से स्वतंत्र हो रही होंगी। लेकिन यह सब हकीकत से कोसों दूर है। यदि हम वैश्विक और राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न सर्वेक्षणों से आने वाले आंकड़ों को देखें तो हम अत्यधिक निराश होगें।’

एनएसओ की ओर से जारी आंकड़ों के अध्ययन से पता चलता है कि कोरोना महामारी के बाद उत्तराखंड में शहरी बेरोजगारी में बढ़ोतरी हुई। राष्ट्रीय स्तर पर आर्थिक और कारोबारी गतिविधियों में तेजी से बेरोजगारी दर बेशक कम हुई हो, लेकिन उत्तराखंड में देश में सबसे ज्यादा 15.5 फीसद बेरोजगारी दर रही। केंद्र सरकार के राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के आवधिक श्रम बल सर्वेक्षण अक्तूबर 2021 से दिसंबर 2021 में यह खुलासा हुआ है।

उत्तराखंड में पुरुषों की तुलना में महिलाएं ज्यादा बेरोजगार हैं। सर्वे के मुताबिक, अक्टूबर से दिसंबर 2020 में पुरुषों में बेरोजगारी दर 11.1 फीसद थी। 2021 में इसी तिमाही में पुरुषों में बेरोजगारी दर बढ़कर 14.2 फीसद हो गई। इसकी तुलना में अक्टूबर से दिसंबर 2020 में पुरुषों से अधिक 13.4 फीसद महिलाएं बेरोजगार थीं, 2021 की इसी तिमाही में बेरोजगारी दर बढ़कर 20.7 फीसद हो गई। यानी कोरोना महामारी के बाद प्रदेश के शहरों में महिलाओं का सबसे अधिक रोजगार छुटा।

राज्यों में शहरी बेरोजगारी प्रतिशत दर- उत्तराखंड-15.5, केरल-15.2, जम्मू कश्मीर-14.5, ओडिशा-14.1, राजस्थान-12.2, हरियाणा-11.5, बिहार-11.1, छत्तीसगढ़-11.3, हिमाचल-11.0, तमिलनाडु-10.2, झारखंड-09.6, मध्य प्रदेश-09.5, उत्तर प्रदेश-09.4, दिल्ली-09.1, असम- 09.0, पंजाब-07.7, तेलंगाना- 07.7, आंध्र प्रदेश-07.5, महाराष्ट्र-07.2, प. बंगाल-06.5, कर्नाटक-05.5, गुजरात-04.5।

कोविड-19 के प्रकोप के बाद से भारत में महिलाओं के रोजगार में भारी गिरावट आई है और अब, 2022 में 9 प्रतिशत तक गिर गया, जो युद्धग्रस्त यमन के समान है। विश्व बैंक के आंकड़ों से पता चलता है, “2010 और 2020 के बीच, भारत में कामकाजी महिलाओं की संख्या 26 प्रतिशत से गिरकर 19 प्रतिशत हो गई।“

महिलाओं और युवाओं के लिये कार्य

यूथ रॉक्स फाउंडेन देहरादून के संस्थापक डॉ दिव्या नेगी घई कहंती है वे महिलाओं और युवाओं के सवालों को प्रमुखता से उठाना चाहती है। इन दोनों के बिना हम पहाड़ की कल्पना नहीं कर सकते। पहाड़ आज बचा है तो महिलाओं के कारण। युवाओं को पहाड़ में रोकना बहुत जरूरी है। इसके लिये संस्था महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति चेतना के लिये काम करेगी। महिलाओं को उनके कष्टों से निजात मिले उसके लिये सरकारी स्तर पर उनके उत्थान के लिये चल रही योजनाओं का लाभ मिले यह सुनिश्चित किया जायेगा। महिलाओं की शिक्षा, उनके स्वास्थ्य और उन्हें मुख्यधारा में प्रतिनिधित्व मिले इसके लिये संस्था काम करेगी। महिलाओं को परंपरागत समाजिक संरचना से बाहर लाकर उनकी प्रतिभा का सही उपयोग कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने, उन पर होने वाले किसी प्रकार के शोषण, भेदभाव, घरेलू हिंसा या अपराध को रोकने के लिये संस्था काम करेगी। युवाओं के लिये यूथ रॉक्स फाउंडेन ’ हर स्तर पर काम करेगी ताकि वह अपने रोजगार के लिये पहाड़ न छोड़े। युवाओं के लिये उत्तराखंड में रोजगार, शिक्षा, तकनीकी शिक्षा या उन सभी संभावनाओं को देखते हुये मदद की जायेगी ताकि वह अपने संसाधनों से ही यहां अपनी आजीविका चला सके।

RELATED ARTICLES

बड़ेथ के पास वाहन हुआ दुर्घटनाग्रस्त, SDRF ने 2 घायलों को किया रेस्क्यू

यमकेश्वर।  देर रात्रि थाना लक्ष्मणझूला द्वारा SDRF को सूचित किया गया कि ऋषिकेश से यमकेश्वर जाते समय यमकेश्वर रोड पर बड़ेथ के पास एक...

शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए साइकिल मार्च

- 2 अक्टूबर को देहरादून से रामपुर तिराहा पहुंचेगा ‘प्रवासी-निवासी मार्च‘ - 20 शहरों के साइकिलिस्ट लेंगे भाग, एकजुट-एकमुट का प्रयास देहरादून। प्रवासी उत्तराखंडियों को एकजुट-एकमुट...

रुद्रप्रयाग में केदारनाथ से आगे मंदाकिनी ग्लेशियर में फंसा एक व्यक्ति, SDRF ने किया रेस्क्यू

रुद्रप्रयाग।  केदारनाथ पुलिस चौकी द्वारा SDRF को सूचित किया गया कि केदारनाथ धाम से 06 किमी आगे एक व्यक्ति मंदाकिनी ग्लेशियर के पास फंसा...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बड़ेथ के पास वाहन हुआ दुर्घटनाग्रस्त, SDRF ने 2 घायलों को किया रेस्क्यू

यमकेश्वर।  देर रात्रि थाना लक्ष्मणझूला द्वारा SDRF को सूचित किया गया कि ऋषिकेश से यमकेश्वर जाते समय यमकेश्वर रोड पर बड़ेथ के पास एक...

यूक्रेन के 15 फीसदी हिस्से पर कब्जे की तैयारी, राष्ट्रपति पुतिन करेंगे ऐलान

मॉस्को। रूस ने यूक्रेन के जिन इलाकों में कब्जा कर रखा है वहां जनमत संग्रह करवाया है। चार दिन चला यह जनमत संग्रह पूरा...

दक्षिण अफ्रीका टी20 शृंखला से बाहर हुए शमी

मुंबई। भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी कोरोनावायरस के कारण ऑस्ट्रेलियाई शृंखला के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली टी20 शृंखला से भी बाहर...

रिलायंस रिटेल ने खोला देश का पहला सेंट्रो स्टोर

नयी दिल्ली  ।  रिलायंस रिटेल ने सेंट्रो नाम से एक नए प्रकार के फैशन और लाइफस्टाइल स्टोर की शुरुआत की। इस स्टोर को मध्य...

कैलोरी बर्न करने का सबसे आसान तरीका है रस्सी कूदना, जानिए इसके बड़े स्वास्थ्य लाभ

रस्सी एक अच्छा कार्डियो व्यायाम है। रस्सी कूदने से तनाव कम होता है और मानसिक स्वास्थ्य बना रहता है। रस्सी कूदने से शरीर लचीला...

जहीर इकबाल के साथ म्यूजिक वीडियो में नजर आएंगी सोनाक्षी सिन्हा

बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा और जहीर इकबाल के रिश्ते की बातें लंबे समय से चल रही हैं। सोशल मीडिया पर अकसर दोनों की नजदीकियां...

शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए साइकिल मार्च

- 2 अक्टूबर को देहरादून से रामपुर तिराहा पहुंचेगा ‘प्रवासी-निवासी मार्च‘ - 20 शहरों के साइकिलिस्ट लेंगे भाग, एकजुट-एकमुट का प्रयास देहरादून। प्रवासी उत्तराखंडियों को एकजुट-एकमुट...

रुद्रप्रयाग में केदारनाथ से आगे मंदाकिनी ग्लेशियर में फंसा एक व्यक्ति, SDRF ने किया रेस्क्यू

रुद्रप्रयाग।  केदारनाथ पुलिस चौकी द्वारा SDRF को सूचित किया गया कि केदारनाथ धाम से 06 किमी आगे एक व्यक्ति मंदाकिनी ग्लेशियर के पास फंसा...

धामी सरकार ने तबादलों के नियम बदलकर दी कर्मचारियों को बड़ी राहत, जानिए नये नियमों से कैसे होंगे तबादले 

देहरादून। उत्तराखंड की धामी सरकार ने तबादलों के नियम बदलकल कर्मचारियों को बड़ी राहत दी है। राज्य में परिवहन, माध्यमिक शिक्षा, उच्च शिक्षा, सिंचाई,...

अंकिता भंडारी हत्याकांड: अभद्र टिप्पणी करने को लेकर गुस्साएं लोगों ने हरिद्वार- देहरादून हाइवे पर लगाया जाम

देहरादून। अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े विपिन कर्णवाल की ओर से इंटरनेट मीडिया पर की गई अभद्र टिप्पणी को लेकर...