Friday, September 30, 2022
Home उत्तराखंड जल संरक्षण के क्षेत्र में एसआरएचयू ने बढ़ाया एक और कदम, 1.5...

जल संरक्षण के क्षेत्र में एसआरएचयू ने बढ़ाया एक और कदम, 1.5 लाख लीटर के जल संरक्षण टैंक का किया गया निर्माण

-कुलपति डॉ.विजय धस्माना ने किया उद्घाटन, भारत के ‘कैच द रेन’ मिशन को किया समर्पित

-राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता ‘उत्तरांचल कूप’ तकनीक से किया गया है जल संरक्षण टैंक का निर्माण

डोईवाला। शिक्षा, स्वास्थ्य व सामाजिक विकास के क्षेत्र में आयाम स्थापित कर चुका स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय (एसआरएचयू) जॉलीग्रांट जल व पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में भी एक मॉडल विश्वविद्यालय के रुप में पहचान कायम कर चुका है। गुरुवार को एसआरएचयू जॉलीग्रांट ने जल संरक्षण की दिशा में एक और कदम बढ़ाया। कुलपति डॉ.विजय धस्माना ने कैंपस में नवनिर्मित 1.5 लाख लीटर क्षमता के जल संरक्षण टैंक का औपचारिक उद्घाटन किया। कुलपति डॉ.विजय धस्माना ने बताया कि राष्ट्रीय पुस्कार विजेता ‘उत्तराचंल कूप’ तकनीक से इस टैंक का निर्माण किया गया है। प्रोजेक्ट को सफल बनाने में सलाहाकार इंजीनियर एचपी उनियाल, आरपीएस रावत, नितेश कौशिक, गिरीश उनियाल, ऋषभ धस्माना, जितेंद्र सिंह ने सहयोग दिया। इस दौरान कुलसचिव डॉ.सुशीला शर्मा, आरडीआई निदेशक बी.मैथिली, डॉ.अशोक देवराड़ी, डॉ.सीएस नौटियाल मौजूद रहे।

सालाना 9 लाख 45 हजार लीटर पानी की होगी बचत
सलाहाकर इं.एचपी उनियाल ने बताया कि इस टैंक से एसआरएचयू करीब सालाना सालाना 9 लाख 45 हजार लीटर पानी की बचत करेगा। दरअसल, नर्सिंग, मेडिकल और ग्राम्य विकास संस्थान के 119 शौचालय और 138 नलों में फ्लशिंग और सफाई के लिए रोजाना करीब 3000 लीटर पानी (सालाना 9.45 लाख) की जरुरत होती है। इस जरुरत को पूरा करने के लिए करीब 19 वर्षों की रिपोर्ट का अध्ययन किया गया। इसके बाद 1.5 लाख लीटर क्षमता के जल संरक्षण टैंक का निर्माण करवाया गया। मेडिकल कॉलेज और नर्सिंग कॉलेज के रुफटॉप (करीब 9000 स्केवयर फीट एरिया) से वर्षा जल संरक्षित किया जाएगा।

उत्तरांचल कूप तकनीक का दोहरा फायदा
वाटसन के नितेश कौशिक ने बताया कि उत्तरांचल कूप तकनीक से निर्मित जल संरक्षण टैंक का दोहरा फायदा है। सालाना 9 लाख 45 हजार लीटर पानी की बचत के साथ व 01 करोड़ 57 लाख लीटर पानी को रिचार्ज किया जाता है, जो वाटर लेवल को कायम रखने में सहायक होता है।

ऐसे काम करती है उत्तरांचल कूप तकनीक
कैंपस में वर्षा जल को विभिन्न विधियों द्वारा संचय किया जाता है। प्रथम चरण में कैंपस में वर्षा के जल को रेन वाटर पाइप के द्वारा एकत्रित कर उसे एक चौम्बर में डाला जाता है। इस चौम्बर में एक जाली लगी होती है, जिसमें घास-फूस व पत्ते आदि जल से अलग हो जाते हैं।

दूसरे चरण में, जल चौम्बर के अंदर जाली से छनकर पाइप के द्वारा फिल्टर टैंक में पहुंचाया जाता है।

तीसरे चरण में, पानी फिल्टर टैंक से होते हुए फिल्टर मीडिया (विभिन्न आकारों में रेत-रोड़ी) से होकर साफ होते हुए तीसरे चौम्बर में एकत्रित होता है।

चौथे चरण में, जल फिल्टर टैंक से पंप (मोटर) की मदद से फ्लशिंग या सफाई के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसके अतिरिक्त शेष पानी को दूसरी लाइन की मदद से रिचार्ज पिट या रिचार्ज बोर वेल के अंदर भेजा जाता है। जिससे कि इस जल को जमीन के अंदर संचयन करते हैं। जो कि वाटर लेवल को कायम रखने में सहायक होता है।

RELATED ARTICLES

अस्पतालों में रजिस्ट्रेशन एवं टोकन के लिए विकसित की जाए प्रभावी व्यवस्था:CM धामी

स्वास्थ्य संबंधी कार्डों की सही मॉनिटरिंग के लिए भी तैयार किया जाए प्लेटफॉर्म। टेलीमेडिसिन की सुविधा के लिए हेल्पलाईन नम्बर 104 का व्यापक प्रचार किया...

 रामगढ़ के करीब पाड़ली में हुआ वाहन दुर्घटनाग्रस्त, SDRF टीम ने रेस्क्यू कर बचाई 1 घायल व्यक्ति की जान

नैनीताल। पुलिस चौकी खैरना द्वारा अवगत कराया गया कि रामगढ़ के पास पाड़ली में एक पिकअप वाहन (UK01-1307) ब्रेक फेल होने से अनियंत्रित होने के...

शराब कांड की आरोपित बबली प्रधान बनते ही हुई गिरफ्तार

हरिद्वार।  शराब कांड की आरोपित बबली प्रधान बनते ही गिरफ्तार हो गई। पथरी शराब कांड में 12 ग्रामीणों की मौत हो गई थी। एक वोट से...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रूस के सोशल नेटवर्क को विश्व स्तर पर ऐप स्टोर से हटाया गया

मॉस्को । एप्पल ने वीके के आईओएस ऐप ‘वीकॉन्टैक्टे’ को वैश्विक स्तर पर अपने ऐप स्टोर से हटा दिया है, जो रूस के फेसबुक...

स्वस्थ रहना हैं तो डाल लीजिए बिना तकिये सोने की आदत, जानें कैसे प्रभावित होता हैं शरीर

रात को सभी आराम की नींद लेना पसंद करते हैं और इस दौरान किसी भी तरह का परिवर्तन नींद में खलल डालने का काम...

साड़ी पहन अवनीत कौर ने लगाया ग्लैमर का तडक़ा, तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश

टेलीविजऩ की जानी मानी मशहूर अभिनेत्री अवनीत कौर अक्सर अपनी तस्वीरों और वीडियो के चलते ख़बरों में बनी रहती है वही हाल ही में...

विपक्षी एकता कितनी संभव?

अजीत द्विवेदी भारतीय जनता पार्टी 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। पार्टी एक-एक लोकसभा सीट पर काम कर रही है। पंजाब...

अस्पतालों में रजिस्ट्रेशन एवं टोकन के लिए विकसित की जाए प्रभावी व्यवस्था:CM धामी

स्वास्थ्य संबंधी कार्डों की सही मॉनिटरिंग के लिए भी तैयार किया जाए प्लेटफॉर्म। टेलीमेडिसिन की सुविधा के लिए हेल्पलाईन नम्बर 104 का व्यापक प्रचार किया...

कुल्लू के ढालपुर में 15 से 20 मिनट तक रुकेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

हिमाचल प्रदेश।  पांच अक्तूबर को शुरू होने वाले कुल्लू दशहरा की भगवान रघुनाथ की रथयात्रा को देखेंगे। वह ढालपुर और रथ मैदान में मात्र...

 रामगढ़ के करीब पाड़ली में हुआ वाहन दुर्घटनाग्रस्त, SDRF टीम ने रेस्क्यू कर बचाई 1 घायल व्यक्ति की जान

नैनीताल। पुलिस चौकी खैरना द्वारा अवगत कराया गया कि रामगढ़ के पास पाड़ली में एक पिकअप वाहन (UK01-1307) ब्रेक फेल होने से अनियंत्रित होने के...

शराब कांड की आरोपित बबली प्रधान बनते ही हुई गिरफ्तार

हरिद्वार।  शराब कांड की आरोपित बबली प्रधान बनते ही गिरफ्तार हो गई। पथरी शराब कांड में 12 ग्रामीणों की मौत हो गई थी। एक वोट से...

बड़ेथ के पास वाहन हुआ दुर्घटनाग्रस्त, SDRF ने 2 घायलों को किया रेस्क्यू

यमकेश्वर।  देर रात्रि थाना लक्ष्मणझूला द्वारा SDRF को सूचित किया गया कि ऋषिकेश से यमकेश्वर जाते समय यमकेश्वर रोड पर बड़ेथ के पास एक...

यूक्रेन के 15 फीसदी हिस्से पर कब्जे की तैयारी, राष्ट्रपति पुतिन करेंगे ऐलान

मॉस्को। रूस ने यूक्रेन के जिन इलाकों में कब्जा कर रखा है वहां जनमत संग्रह करवाया है। चार दिन चला यह जनमत संग्रह पूरा...