Wednesday, October 5, 2022
Home अंतर्राष्ट्रीय "शहीद सम्मान यात्रा’’ के प्रचार रथों को वीर नारियों के हाथों से...

“शहीद सम्मान यात्रा’’ के प्रचार रथों को वीर नारियों के हाथों से हरी झंड़ी दिखा कर रवाना करवाते सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी

 

*‘‘शहीद सम्मान यात्रा’’ के प्रचार रथों को वीर नारियों के हाथों से हरी झंड़ी दिखा कर रवाना करवाते सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी।*

*सैनिक कल्याण मंत्री ने कार्यक्रम में की अनूठी पहल, राजनेताओं के बजाए अशोक चक्र विजेता वीर नारियों के हाथों करवाया रथों को रवाना।*

*अशोक चक्र विजेता शहीद गजेन्द्र सिंह बिष्ट की पत्नी विनीता बिष्ट एवं शहीद बहादुर सिंह वोहरा की पत्नी शांति बोहरा ने किया रथों को रवाना।*

*देहरादून 19 अक्टूबर,* राज्य के मुख्यमंत्री एवं सैनिक कल्याण मंत्री के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट ‘‘भव्य सैन्यधाम निमार्ण’’ के लिए राज्य के शहीद परिवारों के आंगन से पवित्र मिट्टी एकत्र कर लाने के लिए निकाली जाने वाली ‘‘शहीद सम्मान यात्रा’’ के रथों को रवाना करने के कार्यक्रम में सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने शहीदों के सम्मान को सर्वोच्च स्थान देकर आज एक नई परम्परा रखी। महत्वपूर्ण कहे जा रहे ‘‘शहीद सम्मान यात्रा’’ के प्रचार रथों की रवानगी के इस कार्यक्रम में किसी राजनीतिक व्यक्ति के स्थान पर अशोक चक्र (शांति काल का सर्वोच्च सैनिक सम्मान) विजेता विजेता वीर नारियों, विनीता बिष्ट और शांति वोहरा के हाथों रथों को रवाना करवाया गया।
सैनिक कल्याण मंत्री के कैंट रोड स्थित कैम्प कार्यालय से ‘‘शहीद सम्मान यात्रा’’ के प्रचार रथों को रवाना करने का कार्यक्रम आयोजित किया गया। आगामी 21 अक्टूबर को चमोली के सवाड़ गांव से तथा 24 अक्टूबर को पिथौरागढ़ के मूनाकोट से ‘‘शहीद सम्मान यात्रा’’ का शुभारम्भ होने जा रहा है।
रथों की रवानगी के कार्यक्रम में उपस्थित कैबिनेट मंत्री ने ऐन चुनावों के समय पर कांग्रेस के पूर्वसैनिक प्रेम पर प्रश्नचिन्ह लगाते हुए कहा कि जब देश की सेनाओं में कार्यरत हमारे फौजी भाई वन रैंक वन पेंशन की मांग कर रहे थे तब कांग्रेस का फौजी प्रेम कहा सो रहा था। काग्रेंस के लोग इस स्वांग को चुनावों के समय ही करते हैं और फिर सैनिक सम्मान को भूल जाते हैं।
उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी का धन्यवाद करते हुए कहा कि उन्होंने ही 14500 करोड़ की धनराशि वन रैंक वन पेंशन के लिए जारी की। प्रधानमंत्री ने कहा था कि वीर भूमि उत्तराखण्ड में चार धामों के अलावा पांचवां धाम सैन्यधाम होना चाहिए। इसी क्रम में सैन्यधाम निमार्ण के लिए शहीदों के घरों से पवित्र माटी लाने की मुहिम आज से प्रारम्भ कर दी गई है। 21 तारीख को चमोली के सवाड़ में मुख्यमंत्री स्वयं उपस्थित रह कर शहीद सम्मान यात्रा का शुभारम्भ करेंगे। इसी प्रकार 24 अक्टूबर को पिथौरागढ़ के मूनाकोट में स्वयं रक्षामंत्री राजनाथ सिंह इस यात्रा का शुभारम्भ करने आ रहे हैं। राज्य में बन रहा सैन्य धाम इतना भव्य होगा कि उत्तराखण्ड आने वाले पर्यटक चारों धामों के अलावा पांचवें धाम सैन्यधाम के दर्शन किए बिना नहीं जाएंगे।
इससे पहले वरिष्ठ भाजपा नेता ज्योति गैरोला ने ‘‘शहीद सम्मान यात्रा’’ के कार्यक्रम की जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन भाजपा श्रीदेव सुमन मण्डल अध्यक्ष पूनम नैटियाल ने किया तथा कार्यक्रम का समापन सैनिक कल्याण विभाग के निदेशक एवं अपर सचिव मेजर योगेन्द्र यादव द्वारा किया गया। इस अवसर पर सेना के बैंड ने कार्यक्रम की शोभा बड़ाई।
कार्यक्रम में सैकड़ों पूर्व सैनिकों के अलावा ब्रिगडीयर भण्डारी, महावीर राणा, कर्नल राणा, टी0डी0 भूटिया, पदम सिंह थापा, ज्योति कोटिया, भाजपा शहीद दुर्गामल मण्डल के अध्यक्ष राजीव गुरूंग, अनुराग, आर0एस0परिहार, निरंजन डोभाल आदि उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

केदारनाथ धाम में श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए जल्द मिलेंगी तिरुपति बालाजी जैसी सुविधाएं

देहरादून। प्रसिद्ध केदारनाथ धाम में श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए तिरुपति बालाजी ट्रस्ट सुविधाओं में मददगार बनेगा। सात अक्तूबर को आंध्र प्रदेश...

एवलांच में फंसे नौ प्रशिक्षकों के शव बरामद, 25 अभी भी लापता, रेस्क्यू जारी, एसडीआरएफ की पांच टीमें रवाना, सीएम ने रक्षा मंत्री से...

देहरादून। उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में डोकरानी बामक ग्लेशियर में आज एवलांच हो गया। जानकारी के अनुसार, एवलांच की चपेट में आने से नेहरू...

सांकरी में ढह गया हाकम का गुरूर, अवैध आलीशान रिसोर्ट को ध्वस्त करने का काम शुरू

-मोरी तहसील के सांकरी में है uksssc भर्ती घोटाले के मास्टर माइंड हाकम सिंह का रिसोर्ट देहरादून। uksssc भर्ती घोटाले के मास्टरमाइंड हाकम सिंह के...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

केदारनाथ धाम में श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए जल्द मिलेंगी तिरुपति बालाजी जैसी सुविधाएं

देहरादून। प्रसिद्ध केदारनाथ धाम में श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए तिरुपति बालाजी ट्रस्ट सुविधाओं में मददगार बनेगा। सात अक्तूबर को आंध्र प्रदेश...

एवलांच में फंसे नौ प्रशिक्षकों के शव बरामद, 25 अभी भी लापता, रेस्क्यू जारी, एसडीआरएफ की पांच टीमें रवाना, सीएम ने रक्षा मंत्री से...

देहरादून। उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में डोकरानी बामक ग्लेशियर में आज एवलांच हो गया। जानकारी के अनुसार, एवलांच की चपेट में आने से नेहरू...

सांकरी में ढह गया हाकम का गुरूर, अवैध आलीशान रिसोर्ट को ध्वस्त करने का काम शुरू

-मोरी तहसील के सांकरी में है uksssc भर्ती घोटाले के मास्टर माइंड हाकम सिंह का रिसोर्ट देहरादून। uksssc भर्ती घोटाले के मास्टरमाइंड हाकम सिंह के...

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस बार उत्‍तराखंड में सैनिकों के साथ मनाएंगे दशहरा, देश के अंतिम गावं माणा भी जाएंगे रक्षामंत्री

देहरादून। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह उत्तराखंड में चीन सीमा पर स्थित अग्रिम चौकी पर सेना व आईटीबीपी के जवानों के साथ विजयादशमी मनाएंगे। इस अवसर...

 परेड ग्राउंड में भव्य तरीके से मनाया जाएगा दशहरा, जानिए पूरी अपडेट

देहरादून। अबकी बार देहरादून के परेड ग्राउंड पर पांच अक्तूबर को दशहरे का आयोजन भव्य बनाने के लिए दशहरा कमेटी बन्नू बिरादरी ने पूरी ताकत...

CM धामी ने शारदीय नवरात्र की नवमी के पावन अवसर विधि विधान से किया कन्‍या पूजन

देहरादून।  नवमी के दिन मंगलवार को उत्‍तराखंड भर में मां दुर्गा के नौ स्‍वरूपों की पूजा अर्चना का दौर जारी रहा। इस क्रम में...

पाकिस्तान में बाढ़ के हालात में सुधार, भुखमरी और बीमारियों का बढ़ा खतरा

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में आयी भीषण बाढ़ का प्रकोप धीरे धीरे कम हो रहा है। सिंध के 22 में से 18 जिलों में बाढ़ के...

ना करें प्लास्टिक बोतल में पानी पीने की गलती, सेहत को होते हैं ये नुकसान

आजकल के समय में देखने को मिलता हैं कि लोग प्लास्टिक की बोतल में पानी पीने के आदी हो गए हैं। अमीर हो या...

गॉडफादर का हिंदी ट्रेलर रिलीज, चिरंजीवी के साथ एक्शन अवतार में दिखे सलमान खान

सलमान खान का नाम जिस भी फिल्म के साथ जुड़ जाता है, दर्शकों की उत्सुकता उस फिल्म के प्रति बढ़ जाती है। वह साउथ...

पार्टी अध्यक्ष के चुनाव की कब ऐसी चर्चा हुई थी?

हरिशंकर व्यास ध्यान नहीं आ रहा है कि आखिरी बार कब किसी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव की ऐसी चर्चा हुई थी, जैसी अभी...