Friday, August 19, 2022
Home खेल दम है तो दिखेगा और हिंदुस्तान का वो दम बर्मिंघम में दिखा,...

दम है तो दिखेगा और हिंदुस्तान का वो दम बर्मिंघम में दिखा, सावन के महीने में महादेव का कमाल, कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत के लिए जीता सिल्वर

नई दिल्ली। दम है तो दिखेगा और हिंदुस्तान का वो दम बर्मिंघम में दिखा है। कॉमनवेल्थ गेम्स में वजन उठाने के खेल में भारत के संकेत महादेव सरगर ने देश की झोली में पहला मेडल डाला है। उन्होंने अपनी बाजुएं खोलकर, पूरी जान झोंककर पुरुषों के 55 किलोग्राम भार वर्ग में सिल्वर मेडल जीतने लायक वजन उठाया है। 19 साल के संकेत के लिए बर्मिंघम में हिंदुस्तान की शान बढ़ाना इतना आसान नहीं था. इसके लिए उन्होंने काफी मेहनत की है. उन्होंने वजन उठाने से पहले दुश्मन बने खुद के वजन को मात दी है तब जाकर ये सफलता हाथ लगी है। कॉमनवेल्थ गेम्स में मेडल जीतने वाले 19 साल के संकेत महादेव सरगर कोल्हापुर के शिवाजी यूनिवर्सिटी के छात्र हैं। पिछले महीने जब वो नेशनल और खेलो इंडिया यूथ गेम्स में हिस्सा लेने भुवनेश्वर पहुंचे तो वजन बढ़े होने की वजह से उनका उन खेलों में भाग ले पाना मुश्किल लग रहा था। 55 किलोग्राम में उतरने वाले संकेत का वजन 1.7 किलो बढ़ा था।

वजन बना दुश्मन तो छोड़े रोटी-चावल
संकेत ने तब कहा था, “मैं जब भुवनेश्वर पहुंचा तो वजन 56.7 किलोग्राम बढ़ा था. इसके बाद मैंने तत्काल प्रभाव से कार्बाेहाइड्रेट वाली सारी चीजें जैसी रोटी, चावल खानी छोड़ दी। मैं बस उबली हुई सब्जियां और सलाद खाने लगा। यहां तक कि मैंने पानी पीना भी कम कर दिया था.” संकेत महादेव सरगर के उन प्रयासों का नतीजा है कि आज उनके दम से भारत का नाम रोशन है।

12 घंटों की कड़ी मेहनत का नतीजा मेडल
कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की झोली में सिल्वर मेडल डालने वाले संकेत महादेव सरगर ने वेटलिफ्टिंग का खेल खेलना 13 साल की उम्र से शुरू कर दिया था। उनके मुताबिक मोहल्ले में शायद ही कोई बच्चा दूसरा खेल खेलता था। लेकिन वो 12 घंटों तक इस खेल में रमे रहते थे। इसी का अभ्यास करते थे. और, अब जो कमाल वो कर रहे हैं ये उनके उसी मेहनत का नतीजा है।

2024 ओलिंपिक्स पर निगाह
कॉमनवेल्थ गेम्स बर्मिंघम में भारत की चांदी कराने वाले वेटलिफ्टर संकेत महादेव का असली मकसद 2024 के पेरिस ओलिंपिक में कमाल करना है। वो वहां 61 केजी कैटेगरी में हिस्सा लेना चाहते हैं। उन्होंने कहा, “मेरा फोकस 2024 ओलिंपिक्स पर है। उसके लिए मुझे 61 केजी में हिस्सा लेना होगा. ये शरीर के वजन में एक बड़ा उछाल है. जो भी वक्त बचा है उसमें मुझे कड़ी मेहनत करनी होगी.”
खेल 2022 में मलेशिया के अनिक मोहम्मद से सिर्फ एक किलो के अंतर से हारने के बाद रजत पदक प्राप्त किया। 21 वर्षीय संकेत ने 55 किग्रा भार वर्ग के स्नैच राउंड में 113 किग्रा और क्लीन एंड जर्क राउंड में 135 किग्रा सहित कुल 248 किलोग्राम भार उठाया, जबकि अनिक ने स्नैच में 107 और क्लीन एंड जर्क में 142 किग्रा के साथ कुल 249 किग्रा भार उठाया।

संकेत ने क्लीन एंड जर्क राउंड में पहले प्रयास में सफलतापूर्वक 135 किग्रा वजन उठाने के बाद दूसरे और तीसरे प्रयास में 139 किग्रा उठाना चाहा, लेकिन वह असफल रहे और उन्होंने रजत से संतोष किया। अपने दूसरे प्रयास में असफल होने के बाद अनिक ने अंतिम प्रयास में 142 किग्रा उठाकर स्वर्ण हासिल किया। श्रीलंका के दिलंका युडागे ने 225 किग्रा (105 स्नैच, 120 क्लीन एंड जर्क) के साथ कांस्य पदक प्राप्त किया।

RELATED ARTICLES

दिल्ली हाईकोर्ट ने सीओए को सौंपी भारतीय ओलंपिक संघ की बागडोर, इन तीन खिलाडियों को मिली बड़ी जिम्मेदारी

नई दिल्ली। दिल्ली हाई कोर्ट ने भारतीय ओलंपिक संघ के मामलों को संभालने के लिए प्रशासकों की तीन सदस्यीय समिति के गठन का निर्देश...

CM धामी ने बहुउद्देशीय क्रीडा भवन में आयोजित बैडमिंटन प्रतियोगिता’ का किया शुभारंभ

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को बहुउद्देशीय क्रीडा भवन, परेड ग्राउंड, देहरादून में उत्तरांचल राज्य बैडमिंटन एसोसिएशन द्वारा आयोजित ’उत्तराखण्ड राज्य सीनियर बैडमिंटन...

एआईएफएफ के निलंबन को लेकर केंद्र और फीफा के बीच बातचीत जारी, एससी सोमवार को करेगा सुनवाई

नई दिल्ली। विश्व फुटबॉल संचालन संस्था फीफा द्वारा भारतीय फुटबॉल महासंघ को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने पर केंद्र सरकार एक्शन में आ गई...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

सोशल मीडिया पर तैर रही एक खबर से आहत हुए पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, जानिए क्या है पूरा मामला

देहरादून।  भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत सोशल मीडिया पर तैर रही एक खबर से आहत हैं। ब्रेकिंग न्यूज की शैली...

जिलाधिकारी ने बद्रीनाथ धाम में चल रहे मास्टर प्लान के निर्माण कार्य का किया निरीक्षण

चमोली। जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने गुरूवार को बद्रीनाथ धाम में मास्टर प्लान तहत चल रहे निर्माण कार्यो का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने...

CM धामी ने ’रमणी जौनसार एवं ’जौनसार बावर के जननायक पं. शिवराम’ पुस्तक का किया विमोचन

देहरादून।  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को आई.आर.डी.टी सभागार, सर्वे चौक, देहरादून में जौनसार बाबर के प्रथम कवि पं. शिवराम जी द्वारा रचित...

देश की छवि बिगाडऩे वालों पर केंद्र सख्त, 8 यूट्यूब चैनलों पर लगाया प्रतिबंध

नई दिल्ली। केंद्र सरकार देश के खिलाफ दुष्प्रचार फैलाने वाले यूट्यूब चैनलों के खिलाफ बड़े एक्शन के मूड में है। केंद्र ने आज राष्ट्रीय...

दिल्ली हाईकोर्ट ने सीओए को सौंपी भारतीय ओलंपिक संघ की बागडोर, इन तीन खिलाडियों को मिली बड़ी जिम्मेदारी

नई दिल्ली। दिल्ली हाई कोर्ट ने भारतीय ओलंपिक संघ के मामलों को संभालने के लिए प्रशासकों की तीन सदस्यीय समिति के गठन का निर्देश...

UKSSSC पेपर लीक मामले में एसटीएफ के हाथ लगी एक और बड़ी सफलता, जूनियर इंजीनियर ललित राज शर्मा की हुई गिरफ्तारी

देहरादून। पेपर लीक मामले में एसटीएफ के हाथ लगी एक और सफलता। एसटीएफ ने लंबी पूछताछ के बाद धामपुर निवासी जूनियर इंजीनियर ललित...

शिवराज सिंह चौहान को बीजेपी संसदीय बोर्ड से बाहर करना क्या मध्य प्रदेश के लिए है साफ संकेत?

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भाजपा की फैसले लेने वाली शीर्ष संस्था भाजपा संसदीय बोर्ड से बाहर कर दिया गया...

पहली बार भारतीय सिनेमाघरों में हिंदी में रिलीज होगी नेपाली फिल्म प्रेम गीत 3

बीते कुछ सालों में दक्षिण भारतीय फिल्मों को हिंदी में रिलीज करने का ट्रेंड बढ़ा है। हिंदी के दर्शक भी इन फिल्मों को हाथोंहाथ...

राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने पुलिस लाइन में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव में किया प्रतिभाग

देहरादून। गुरुवार को पुलिस लाइन, देहरादून में आयोजित श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव कार्यक्रम में राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से.नि) ने बतौर मुख्य अतिथि एवं...

मुख्यमंत्री ने किया बोधिसत्व विचार श्रृंखला ‘बिन पानी सब सून’ संगोष्ठी को सम्बोधित

जल संरक्षण एवं संवर्धन के लिये समेकित प्रयासों की बतायी जरूरत। देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय स्थित सभागार में...