Tuesday, May 17, 2022
Home अंतर्राष्ट्रीय पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज और सुधांशु जी महाराज की हुई...

पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज और सुधांशु जी महाराज की हुई दिव्य भेंट वार्ता

 

*परमार्थ निकेतन पधारे श्री सुधांशु जी महाराज*

*पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज और सुधांशु जी महाराज की हुई दिव्य भेंट वार्ता*

*पर्यावरण व प्राकृतिक संसाधनों का बेहतर प्रबंधन एवं संरक्षण, नदियों, वन्य जीवों और पेड़-पौधों के संरक्षण पर हुई चर्चा*

*गंगा माँ ने खेतों को ही नहीं बल्कि दिलों को भी सींचा-पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज*

*प्रकृतिस्थ जीवन की ओर लौटे-श्री सुधांशु जी महाराज*

*ऋषिकेश, 18 नवम्बर।* परमार्थ निकेतन में विश्व जागृति मिशन के प्रमुख सुधांशु जी महाराज पधारे, परमार्थ गुरूकुल के ऋषिकुमारों ने वेद मंत्रों और शंख ध्वनि से उनका दिव्य स्वागत किया।

परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज और सुधांशु जी महाराज की दिव्य भेंटवार्ता हुई। इस अवसर पर दोनों महापुरूषों ने समसामयिक विषयों पर चर्चा करते हुये वृक्षारोपण, पर्यावरण संरक्षण, सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग कम करने, माँ गंगा, यमुना और अन्य नदियों को प्रदूषण मुक्त करने हेतु कथाओं और साधना शिविरोेें के माध्यम से जन जागरूकता अभियान चलाने पर विशद चर्चा की।

पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज ने कहा कि कथा और साधना शिविरों का आयोजन ही परमार्थ कार्यो के लिये किया जाता है। अपने लिये जिये तो क्या जिये इसलिये केवल अपने लिये नहीं अपनों के लिये और उन अपनों में भी पूरे विश्व को समेट लें यही तो जीवन है। गंगा जी सब के लिये बहती हैं नो डिस्क्रिमिनेशन, नो हेज़िटेशन, नो एक्सपेक्टेशन और नो वेकेशन, इस भाव से सदियों से निरंतर प्रवाहित हो रही है। माँ गंगा सब के खेतों को चाहे वह किसी भी धर्म और जाति का हो गंगा सबको सींचती चली जाती हैं। गंगा माँ केवल खेतों को नहीं बल्कि दिलों को भी सींचती है। हमारा जीवन भी ऐसा ही हो, सब की सेवा करें, बिना भेदभाव के करें और करते ही रहें। हमारे भीतर सभी के लिये प्रेम का सागर बहता हो। इस तरह का भाव जब जीवन में बढ़ता हैं तो सच माने न नदियों का जल प्रदूषित होगा न पर्यावरण और न ही जीवन प्रदूषित होगा।

पूज्य स्वामी जी ने कहा कि मानव और पर्यावरण एक-दूसरे से परस्पर जुड़े हुये हैं। मानव कल्याण और विकास का सीधा सम्बंध पर्यावरण से है। स्वच्छ पर्यावरण के बिना मानव विकास लक्ष्य को प्राप्त नहीं किया जा सकता।
विश्व जागृति मिशन के प्रमुख सुधांशु की महाराज ने कहा कि देश में लगातार भूमिगत जल के नीचे जाने से शुद्ध पेय जल संकट देशवासियों के सामने मुंह बाये खड़ा है। भारत ही नहीं सम्पूर्ण विश्व भर में भूमिगत जल में हो रही घटोत्तरी और बढ़ते समुद्र चिंता के विषय हैं।
प्रकृति-पर्यावरण से जुड़ी इन समस्याओं पर गौर करना जरूरी है कि यह संकट हम मनुष्यों ने ही पैदा किया है इसलिये इसका समाधान भी हमारे पास ही है। हमने अपनी जीवन शैली में अप्राकृतिक बदलाव किया है उससे ही संकट पैदा हुआ है इससे मुक्ति पाने के लिए हमें पुनः पर्यावरण एवं प्रकृतिस्थ जीवन की ओर लौटना होगा।

RELATED ARTICLES

मेरु मुल्क चौंदकोट संस्था ने सतपुली के मलेठी में मनाई राजेंद्र धस्माना की पुण्यतिथि।

मेरु मुल्क चौंदकोट संस्था ने सतपुली के मलेठी में मनाई राजेंद्र धस्माना की पुण्यतिथि।संपूर्ण गांधी वांग्मय के प्रधान संपादक,दूरदर्शन के पूर्व संपादक,...

पौड़ी में यात्री शेड के टूटने से एक युवक की मौत हो गई.

खापौड़ी में यात्री शेड के टूटने से एक युवक की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि युवक की एक महीने...

महिला को बनाया गुलदार ने निवाला

पौड़ी विकासखंड पाबौ के अंतर्गत आने वाले स्पलोडी में आज देर शाम एक महिला को गुलजार ने अपना निवाला बना दिया। प्राप्त...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

मेरु मुल्क चौंदकोट संस्था ने सतपुली के मलेठी में मनाई राजेंद्र धस्माना की पुण्यतिथि।

मेरु मुल्क चौंदकोट संस्था ने सतपुली के मलेठी में मनाई राजेंद्र धस्माना की पुण्यतिथि।संपूर्ण गांधी वांग्मय के प्रधान संपादक,दूरदर्शन के पूर्व संपादक,...

पौड़ी में यात्री शेड के टूटने से एक युवक की मौत हो गई.

खापौड़ी में यात्री शेड के टूटने से एक युवक की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि युवक की एक महीने...

महिला को बनाया गुलदार ने निवाला

पौड़ी विकासखंड पाबौ के अंतर्गत आने वाले स्पलोडी में आज देर शाम एक महिला को गुलजार ने अपना निवाला बना दिया। प्राप्त...

पौड़ी में पत्रकार उमेश डोभाल की स्मृति में आयोजित सम्मान समारोह में त्रेपन सिंह चौहान को मरणोपरांत उमेश डोभाल स्मृति सम्मान,अनिल स्वामी को राजेन्द्र...

में पत्रकार उमेश डोभाल की स्मृति में आयोजित सम्मान समारोह में त्रेपन सिंह चौहान को मरणोपरांत उमेश डोभाल स्मृति सम्मान,अनिल स्वामी को...

चारधाम यात्रा- 2022 हेतु यात्रियों के स्वास्थ्य हेतु दिशा निर्देश

*चारधाम यात्रा- 2022 हेतु यात्रियों के स्वास्थ्य हेतु दिशा निर्देश (Health Advisory)* चारधाम यात्रा- 2022 के लिये मुख्यमंत्री  पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर उत्तराखण्ड...

दुनियां के साथ बैठकर ही पर्यटन की बात करनी पड़ती है: महाराज

  *11 मई-2022* *दुनियां के साथ बैठकर ही पर्यटन की बात करनी पड़ती है: महाराज* *पर्यटन की असीम संभावनाओं को देखते हुए उत्तराखंड आने के इच्छुक इन्वेस्टर* देहरादून/दुबई।...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुड गर्वनेंस के संबंध में अधिकारियों को दिये महत्वपूर्ण निर्देश

*अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति तक पहुंचे गुड गर्वनेंस : सीएम* *तहसील दिवसों, बहुद्देशीय शिविरों में लोगों की समस्याओं का निस्तारण मौके पर ही हो* *अधिक...

दुबई में बोले महाराज उत्तराखण्ड को मिला है अपार प्राकृतिक सुंदरता का उपहार

*10 मई-2022* *दुबई में बोले महाराज उत्तराखण्ड को मिला है अपार प्राकृतिक सुंदरता का उपहार* देहरादून/दुबई। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा है कि उत्तराखंड को...

नाजायज किसी के साथ भी कोई कार्यवाही नहीं करेगा नगर निगम- मेयर गामा

पशुपालन डेयरी वालो की समस्याओं को लेकर दून के मेयर को सौंपा ज्ञापन नाजायज किसी के साथ भी कोई कार्यवाही नहीं करेगा नगर निगम -...

राहगीरों के लिए शुरू किया ‘पत्रकार राजेंद्र जोशी स्मृति प्याऊ’

राहगीरों के लिए शुरू किया ‘पत्रकार राजेंद्र जोशी स्मृति प्याऊ’ - उत्तरांचल प्रेस क्लब ने स्व. जोशी की पहली पुण्यतिथि पर उनके साथ ही दिवंगत...