Saturday, January 28, 2023
Home ब्लॉग अमित शाह और फारुक अब्दुल्ला

अमित शाह और फारुक अब्दुल्ला

वेद प्रताप वैदिक
गृहमंत्री अमित शाह ने बारामूला में हजारों कश्मीरियों को साक्षात संबोधित किया और अपने भाषण में आंकड़ों का अंबार लगाकर मोदी-शासन की सफलता का बखान किया लेकिन उन्होंने अब्दुल्ला, मुफ्ती और नेहरु-परिवार के शासन को काफी निकम्मा सिद्ध करने की कोशिश की। यह बात तीनों परिवारों को काफी चुभ रही है। नेशनल कांफ्रेंस के नेता डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने तो तुरंत उसका जवाब देने की कोशिश की। महबूबा मुफ्ती और कांग्रेस भी चुप नहीं बैठेगी। शायद गुलाम नबी आजाद भी कुछ बोल पड़ें तो आश्चर्य नहीं होगा।

अब्दुल्ला ने शाह की तरह न तो कोई आरोप लगाया है और न ही केंद्र की भाजपा सरकार पर कोई आक्रमण किया है। उन्होंने तो अपने बयान में सिर्फ यह बताया है कि उनकी पार्टी नेशनल कांफ्रेंस ने श्रीनगर में कुल 26 साल राज किया है और उन वर्षों में उसने कश्मीर का काया-पलट कर दिया है। उनकी सरकार ने न केवल नए-नए कल-कारखाने लगवाए, कई कॉलेज और विश्वविद्यालय बनवाए, अस्पताल खुलवाए, पंचायती राज स्थापित किया, बिजलीघरों और बांधों का निर्माण करवाया। लाखों लोगों को रोजगार दिया और लोक-कल्याण के लिए कई नए संगठन खड़े किए हैं।

फारूक अब्दुल्ला ने जो तथ्य और आंकड़े पेश किए हैं, उनकी प्रामाणिकता पर संदेह करने का कोई कारण नहीं है लेकिन यह भी तथ्य है कि कश्मीर को केंद्र सरकारों ने जितनी मदद दी है, उसमें से कुछ हिस्सा नेताओं और अफसरों की जेब में जाता रहा है लेकिन यह किस सरकार में नहीं होता? कश्मीरी नेताओं पर भ्रष्टाचार के मुकदमे चल रहे हैं तो देश के कई मुख्यमंत्री और मंत्री जेल की हवा भी खाते रहे हैं लेकिन अमित शाह अपने विरोधियों पर जमकर नहीं बरसें तो वे किसी पार्टी के नेता कैसे माने जाएंगे लेकिन अमित शाह और देश के अन्य सभी नेतागण यह भी सोचें कि अपने विरोधियों की सिर्फ भर्त्सना करना और वह भी तीखी भाषा में, क्या यह ठीक है?

यदि अमित शाह उनकी भर्त्सना करते-करते यह भी, चाहे दबी जुबान से ही, कह देते कि कश्मीर-जैसी बीहड़ जगह में इन पार्टियों का कुछ न कुछ अच्छा योगदान रहा है तो अब जो दंगल शुरु हो रहा है, वह नहीं होता। इन तीनों परिवारों की सरकारों ने कश्मीर को कभी पाकिस्तान के हवाले करने की बात नहीं की। मैं तो यहां तक कहता हूं कि कश्मीर की सभी पार्टियों और अलगाववादियों से भी भारत सरकार सीधी बात क्यों नहीं चलाए? अमित शाह ने यों भी उन्हें आश्वस्त किया है कि वे जम्मू-कश्मीर में शीघ्र चुनाव करवाना चाहते हैं। वे यह भी न भूलें कि धारा 370 हटाते वक्त शाह ने संसद को आश्वस्त किया था कि जम्मू-कश्मीर विधानसभा को फिर से शीघ्र ही चालू किया जाएगा।

RELATED ARTICLES

तो कैसे होगा मुक्त व्यापार

भारत की अपेक्षा है कि समझौता होने पर भारतीय नागरिकों के लिए ब्रिटेन जाना आसान हो जाएगा। लेकिन ब्रिटेन ने साफ कर दिया है...

बीएमसी चुनाव की घोषणा कभी भी

बृहन्नमुंबई महानगर निगम यानी बीएमसी चुनाव की घोषणा किसी भी समय हो सकती है। पक्ष और विपक्ष दोनों की तैयारियां पूरी हो गई हैं।...

विज्ञान की बड़ी सफलता

नई तकनीक इमारतों या इंसानी बस्तियों पर बिजली गिरने से होने वाले नुकसान को रोकने में मददगार हो सकती है। इस प्रयोग को आसमान...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रंत रैबार संस्था का करियर काउंसलिंग कार्यक्रम : विद्यार्थियों को मिला मार्गदर्शन, हर क्षेत्र से जुड़े स्कोप के बारे में बताया गया

यमकेश्वर। यमकेश्वर विधानसभा के जनता इण्टर कॉलेज किमसार के सभागार में बच्चों के उज्ज्वल भविष्य एवं मार्गदर्शन के लिए करियर गाइडेंस व काउंसलिग कार्यक्रम हुआ।...

राजस्थान के जैसलमेर जिले से सामने आया चोरी का एक अनोखा मामला, जमकर हो रही चर्चा

राजस्थान। आए दिन चोरी की वारदात होती रहती हैं, लेकिन प्रदेश के जैसलमेर जिले में चोरी का एक अनोखा मामला सामने आया है। जिसकी...

अंकिता हत्याकांड- एक से तीन फरवरी तक होगा वनंतरा रिसार्ट प्रकरण के मुख्य आरोपी पुलकित आर्य का पालीग्राफ टेस्ट

देहरादून। वनंतरा रिसार्ट प्रकरण में मुख्य आरोपित पुलकित आर्य का पालीग्राफ टेस्ट एक से तीन फरवरी तक होगा। दिल्ली के रोहणी स्थित केंद्रीय फोरेंसिक लैब...

मेरठ में गणतंत्र दिवस पर रेलवे रोड क्षेत्र में राष्ट्रगान पर नृत्य करने और अपमान करने वाले एक आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश। मेरठ में गणतंत्र दिवस पर रेलवे रोड क्षेत्र में राष्ट्रगान पर नृत्य करने और अपमान करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ।...

सीएम धामी ने भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय स्थित मुख्य सेवक सदन में भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग...

घुटनों को मजबूती देने में मदद कर सकते हैं ये 5 योगासन, रोजाना करें अभ्यास

उम्र और चोट जैसे कई कारणों से हमारे घुटनों को नुकसान पहुंच सकता है। इन समस्याओं से सुरक्षित रहने के लिए घुटनों को मजबूत...

मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में हुआ बड़ा हादसा, वायुसेना का सुखोई-30 और मिराज हुए क्रैश

मध्य प्रदेश। मुरैना जिले के पहाड़गढ़ के जंगल में फाइटर जेट गिरने के बाद आग लग गई। सूचना मिलते ही पुलिस फोर्स पहाड़गढ़ के जंगल...

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन बीएफ-7 के खतरे के बीच भारत बायोटेक की स्वदेशी इंट्रा नेजल कोरोना वैक्सीन का परीक्षण रहा सफल

हिमाचल प्रदेश। कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन बीएफ-7 के खतरे के बीच भारत बायोटेक की स्वदेशी इंट्रा नेजल कोरोना वैक्सीन केंद्रीय ड्रग्स लेबोरेटरी (सीडीएल) कसौली...

उत्तराखंड पहुंचे धीरेंद्र शास्त्री ने दी विरोधियों को नसीहत ‘कायदे में रहेंगे तो फायदे में रहेंगे’

देहरादून। मध्य प्रदेश के बाबा बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री उत्तराखंड पहुंचे हैं। सोशल मीडिया पर पोस्ट एक वीडियो में वे बता रहे है...

पुष्पा: द रूल की शूटिंग के लिए ‘द बॉयज’ में शामिल होंगी रश्मिका मंदाना

मशहूर एक्ट्रेस रश्मिका मंदाना ने 2021 की ब्लॉकबस्टर ‘पुष्पा : द राइज’ के सीक्वल को लेकर अपडेट दिया है। एक्ट्रेस ने शेयर किया कि ‘द...