Friday, August 19, 2022
Home उत्तराखंड पशुपालन पर वैश्विक सम्मेलन में उत्तराखंड को मिली अग्रणी भूमिका

पशुपालन पर वैश्विक सम्मेलन में उत्तराखंड को मिली अग्रणी भूमिका

 

पशुपालन पर वैश्विक सम्मेलन में उत्तराखंड को मिली अग्रणी भूमिका

देहरादून। वैश्विक निकाय ने ‘पशुधन सहकारिता’ पर बैठक का आयोजन किया, उत्तराखंड की अनुकरणीय भूमिका की सराहना की। बैंकाक मुख्यालय एनईडीएसी ने उत्तराखंड के पशुपालन विभाग के प्रयासों की सराहना की है जिसके तहत हजारों किसानों को हिमालयी राज्य में सतत विकास और आजीविका लाने के लिए पशुधन प्रबंधन के लिए अत्याधुनिक तकनीक दी जाती है।

उत्तराखंड ने पशुधन प्रबंधन के माध्यम से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को गति देने में देश में अग्रणी भूमिका निभाई है। उन्नत और वैज्ञानिक पशुपालन के माध्यम से ग्रामीण समुदायों को समृद्ध बनाने में उत्तराखंड की उपलब्धियों को अब दुनिया भर में स्वीकार किया जा रहा है।
नेटवर्क फॉर द डेवलपमेंट ऑफ एग्रीकल्चरल कोऑपरेटिव्स इन एशिया एंड द पैसिफिक (एनईडीएसी) नामक एक वैश्विक संगठन ने ‘पशुधन सहकारी समितियों’ पर अपनी पहली बैठक आयोजित की। बैठक ऑनलाइन मोड में आयोजित की गई थी। बैठक में बांग्लादेश, चीन, ईरान, केन्या, नेपाल, फिलीपींस, श्रीलंका और थाईलैंड सहित आठ देशों के पशुपालन विशेषज्ञ शामिल हुए। NEDAC का प्रधान कार्यालय बैंकॉक, थाईलैंड में है।
यह भारत के लिए गर्व की बात है कि डॉ बीवीआरसी पुरुषोत्तम, आईएएस, सचिव, पशुपालन और सहकारिता विभाग, उत्तराखंड, भारत ने बैठक की अध्यक्षता की। उन्हें “पशुधन” पर एनईडीएसी समिति की पहली बैठक में उद्घाटन भाषण देने के लिए आमंत्रित किया गया था। सहकारिता”। एनईडीएसी बैंकॉक के मानद निदेशक डॉ केआर सालिन ने कहा कि उत्तराखंड को यह अनूठा सम्मान पर्वतीय राज्य द्वारा किसानों को आत्मनिर्भर बनाने और पशुपालन में आधुनिक प्रथाओं के माध्यम से समृद्ध बनाने में किए गए अनुकरणीय कार्यों के कारण मिला है।
इस अवसर पर बोलते हुए, डॉ पुरुषोत्तम ने इस बात पर प्रकाश डाला कि कृषि के बाद पशुधन खेती लोगों का दूसरा सबसे महत्वपूर्ण व्यवसाय है, और ग्रामीण अर्थव्यवस्था में एक प्रमुख भूमिका निभाता है।
उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि उत्तराखंड ने पशुपालन क्षेत्र के विकास में तेजी से कदम उठाए हैं। डॉ पुरुषोत्तम ने कहा कि राज्य ने किसानों को संगठित बाजार पहुंच प्रदान करके उनकी मदद की है। इस क्षेत्र में उत्तराखंड की विभिन्न उपलब्धियों के बीच, उन्होंने उत्पादन क्षेत्रों से लेकर मांग केंद्रों, बाजार संबंधों और मूल्य श्रृंखला निर्माण तक पशुधन उत्पादों के प्रसंस्करण, भंडारण और संरक्षण जैसी पहलों पर प्रकाश डाला। डॉ अविनाश आनंद, प्रबंध निदेशक, यूएसजीसीएफ और परियोजना निदेशक, भेड़ बकरी क्षेत्र ने ‘पशुधन सहकारिता’ पर बैठक के दौरान बात की। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड एकीकृत सहकारी विकास परियोजना (यूकेसीडीपी भेड़ बकरी क्षेत्र) राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) के सहयोग से इन जानवरों के समग्र विकास में तेजी ला रही है।
बैठक में भाग लेने वाले विभिन्न देशों के पशुपालन विशेषज्ञों ने सराहना की कि उत्तराखंड ने नस्ल सुधार और स्टॉक के प्रसार के लिए उच्च गुणवत्ता वाली भेड़ और बकरियों के साथ प्राथमिक सहकारी समितियां प्रदान की हैं। उन्होंने गोजातीय आबादी के नस्ल सुधार और पशुपालन क्षेत्र में अन्य प्रमुख पहलों के लिए राज्य द्वारा किए गए प्रयासों की भी सराहना की।

RELATED ARTICLES

जिलाधिकारी ने बद्रीनाथ धाम में चल रहे मास्टर प्लान के निर्माण कार्य का किया निरीक्षण

चमोली। जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने गुरूवार को बद्रीनाथ धाम में मास्टर प्लान तहत चल रहे निर्माण कार्यो का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने...

CM धामी ने ’रमणी जौनसार एवं ’जौनसार बावर के जननायक पं. शिवराम’ पुस्तक का किया विमोचन

देहरादून।  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को आई.आर.डी.टी सभागार, सर्वे चौक, देहरादून में जौनसार बाबर के प्रथम कवि पं. शिवराम जी द्वारा रचित...

देश की छवि बिगाडऩे वालों पर केंद्र सख्त, 8 यूट्यूब चैनलों पर लगाया प्रतिबंध

नई दिल्ली। केंद्र सरकार देश के खिलाफ दुष्प्रचार फैलाने वाले यूट्यूब चैनलों के खिलाफ बड़े एक्शन के मूड में है। केंद्र ने आज राष्ट्रीय...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

जिलाधिकारी ने बद्रीनाथ धाम में चल रहे मास्टर प्लान के निर्माण कार्य का किया निरीक्षण

चमोली। जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने गुरूवार को बद्रीनाथ धाम में मास्टर प्लान तहत चल रहे निर्माण कार्यो का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने...

CM धामी ने ’रमणी जौनसार एवं ’जौनसार बावर के जननायक पं. शिवराम’ पुस्तक का किया विमोचन

देहरादून।  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को आई.आर.डी.टी सभागार, सर्वे चौक, देहरादून में जौनसार बाबर के प्रथम कवि पं. शिवराम जी द्वारा रचित...

देश की छवि बिगाडऩे वालों पर केंद्र सख्त, 8 यूट्यूब चैनलों पर लगाया प्रतिबंध

नई दिल्ली। केंद्र सरकार देश के खिलाफ दुष्प्रचार फैलाने वाले यूट्यूब चैनलों के खिलाफ बड़े एक्शन के मूड में है। केंद्र ने आज राष्ट्रीय...

दिल्ली हाईकोर्ट ने सीओए को सौंपी भारतीय ओलंपिक संघ की बागडोर, इन तीन खिलाडियों को मिली बड़ी जिम्मेदारी

नई दिल्ली। दिल्ली हाई कोर्ट ने भारतीय ओलंपिक संघ के मामलों को संभालने के लिए प्रशासकों की तीन सदस्यीय समिति के गठन का निर्देश...

UKSSSC पेपर लीक मामले में एसटीएफ के हाथ लगी एक और बड़ी सफलता, जूनियर इंजीनियर ललित राज शर्मा की हुई गिरफ्तारी

देहरादून। पेपर लीक मामले में एसटीएफ के हाथ लगी एक और सफलता। एसटीएफ ने लंबी पूछताछ के बाद धामपुर निवासी जूनियर इंजीनियर ललित...

शिवराज सिंह चौहान को बीजेपी संसदीय बोर्ड से बाहर करना क्या मध्य प्रदेश के लिए है साफ संकेत?

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भाजपा की फैसले लेने वाली शीर्ष संस्था भाजपा संसदीय बोर्ड से बाहर कर दिया गया...

पहली बार भारतीय सिनेमाघरों में हिंदी में रिलीज होगी नेपाली फिल्म प्रेम गीत 3

बीते कुछ सालों में दक्षिण भारतीय फिल्मों को हिंदी में रिलीज करने का ट्रेंड बढ़ा है। हिंदी के दर्शक भी इन फिल्मों को हाथोंहाथ...

राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने पुलिस लाइन में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव में किया प्रतिभाग

देहरादून। गुरुवार को पुलिस लाइन, देहरादून में आयोजित श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव कार्यक्रम में राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से.नि) ने बतौर मुख्य अतिथि एवं...

मुख्यमंत्री ने किया बोधिसत्व विचार श्रृंखला ‘बिन पानी सब सून’ संगोष्ठी को सम्बोधित

जल संरक्षण एवं संवर्धन के लिये समेकित प्रयासों की बतायी जरूरत। देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय स्थित सभागार में...

जो नहीं फंसे हैं उनको फंसाना है

हरिशंकर व्यास पिछले दिनों जब नीतीश कुमार ने भाजपा का साथ छोड़ा तो सोशल मीडिया में यह पोस्ट दिखाई दी कि अब केंद्र सरकार और...